sudarshan news journalist manish kumar singh murder in bihar

बिहार में सुदर्शन न्यूज़ के पत्रकार मनीष कुमार सिंह की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई है। मनीष कुमार सिंह पिछले तीन दिनों से लापता थे और अब 3 दिन बाद उनका शव एक गड्ढे में मिला। मनीष का शव बरामद होने से पूरे इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है और मनीष के परिजनों का तो रो-रो कर बुरा हाल हो गया है और वे लगातार इन्साफ की मांग कर रहे है।

पत्रकार मनीष कुमार सिंह एक पार्टी में शामिल होने के घर से लिए निकले थे लेकिन कुछ समय बाद से ही उनका फोन स्विच ऑफ आने लगा था। और 3 दिन बाद उनका शव एक गढ्ढे से बरामद हुआ। उनके शव की पहचान पानी में पड़ा रहने के कारण मुश्किल हो रही थी। मनीष कुमार सिंह के पिता एक RTI कार्यकर्ता के रूप में भी काम करते थे। उनके परिवार को पहले भी कई बार धमकी मिलती रही है।

 

सुदर्शन न्यूज़ के पत्रकार थे मनीष कुमार सिंह

मृतक पत्रकार मनीष कुमार सिंह बिहार में सुदर्शन न्यूज़ चैनल में अरेराज अनुमंडल संवाददाता के पद पर कार्य करते थे। मनीष के के पिता संजय सिंह भी अरेराज दर्शन समाचार पत्र के संपादक के पद पर कार्यरत है। मनीष एक बड़े होनहार पत्रकार थे और वे अपनी पत्रकारिता पूरी ईमानदारी से करते थे। मनीष कुमार सिंह की हत्या से इलाके में सनसनी फ़ैल गई है।

 

कहा के थे मनीष कुमार सिंह?

मृतक पत्रकार मनीष कुमार सिंह पहाड़पुर थाना क्षेत्र अरेराज के कोटवा पंचायत स्थित बथूआहा टोला के वार्ड संख्या 15 के निवासी थे। आपको बता दे की पहाड़पुर थाना छेत्र बिहार केपूर्वी चंपारण जिले के अंतर्गत आता है। अरेराज भारत के बिहार राज्य के पूर्वी चंपारण जिले का एक कस्बा है।

 

मोहम्मद अरशद आलम समेत 13 हैं आरोपी!

मृतक मनीष कुमार सिंह के पिता संजय कुमार सिंह ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में एक आवेदन देकर पत्रकार के साथी मोहम्मद अरशद आलम सहित कुल 13 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराइ है। मृतक मनीष के पिता ने इन 13 लोगो को नामजद करते हुए बताया कि उनके साथ उनका विवाद चल रहा था और इस मामले में वे पहले ही स्थानीय थाना में पिछली 25 जुलाई को एक मामला दर्ज कराया था।

 

धोखे से की गई मनीष की हत्या!

मृतक पत्रकार मनीष कुमार सिंह के पिता ने आशंका जताई है कि आरोपितों ने धोखे से उनके बेटे को बुलाया और एक साजिश के तहत अपहरण कर के हत्या कर दी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी मोहम्मद अरसद आलम और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अरेराज डीएसपी संतोष कुमार ने इसकी पुष्टि की।

 

पुलिस का उचित कार्यवाई का आश्वासन!

पहाड़पुर थाना क्षेत्र की पुलिस ने आश्वासन दिया है कि इस मामलें की सही जाँच कर अपराधिओं पर उचित कार्रवाई की जाएगी। इस घटना के बाद स्थानीय मीडियाकर्मियों में भय का माहौल है। सभी मिडिया कर्मियों ने मनीष कुमार सिंह की हत्या पर शोक व्यक्त किया है।

 

ये भी पढ़े…
जानिए क्या है रानी लक्ष्मीबाई आत्मरक्षा प्रशिक्षण जो बच्चियों को देता है आत्मरक्षा की ताकत | Rani Laxmibai Self Defence Training Programme
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना क्या है? | Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana in hindi
जानिए महिलाओ की सुरक्षा के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा बनाया गया My Traffic My Safety App क्या है?
जानिए देश के किसानों पर कितना है कर्ज? देखें सभी राज्यों के हैरान कर देने वाले आंकड़े!

 

Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial