कफ का आयुर्वेदिक इलाज

कफ का आयुर्वेदिक इलाज: सर्दियां का मौसम बच्चो और बुजुर्गो के लिए बहुत ही कठिनाई भरा होता है। क्योकि इनमे सर्दियों में कफ की समस्‍या ज्यादा बढ़ जाती है। आज कल कोरोना काल में ये बीमारी बहुत गंभीर रूप ले रही है। बच्चो में ज्यादा दिन से कफ की परेशानी से जूझने के करण उन्हें निमोनिया की शिकायत हो सकती है। यही हाल हमारे बुजुर्गों का है। उन्हें भी खानपान में जरा सी लापरवाही की बजह से कफ की समस्या उत्पन्न हो जाती है। आइये जानते हैं kaf ki samasya kaise dur kare?

 

कफ का आयुर्वेदिक इलाज

कफ की समस्या का सबसे अच्छा उपाय है इससे बचाव। आयुर्वेद के अनुसार ठंढ कफ का मौसम होता है। इसलिए सर्दियों में हमें ऐसा भोजन लेना चाहिए जिससे कफ से बचा जा सके। आयुर्वेदिक सिद्धांतों का पालन करते हुए स्वस्थ आहार खाने से हम स्वस्थ रह सकते है। और यही सर्दियों में कफ की समस्‍या का रामबाण आयुर्वेदिक इलाज है।

 

सर्दियों में कफ की समस्‍या का रामबाण इलाज है ये चीजें!

इस समय कोरोना महामारी के कारण हल्की सर्दी-खांसी से भी लोगो डर लगने लगा है। हालांकि मौसम बदलने के कारण भी कई बार गले में खराश हो जाती है। इसके अलावा खानपान में परहेज ना करने और ठंडी चीज खाने से भी गले की समस्या हो सकती है। अगर आप भी ऐसे में आ आइये जानते हैं कैसे कफ का आयुर्वेदिक इलाज किया जा सकता है और आयुर्वेदिक पद्धतिओं को अपनाकर गले की खिच-खिच और बलगम को घरेलू नुस्खों से भी दूर किया जा सकता है।

kaf ki samasya kaise dur kare
kaf ki samasya kaise dur kare

 

अदरक:

अगर आप कई दिनों से कफ और खासी से परेशान है हो आप अदरक को भूनकर अपने मुँह में रख सकते है। शहद- अदरक और गुड़- अदरक के रोजाना सेवन से भी सर्दी-जुकाम और बलगम की समस्या भी ठीक हो जाती है।

 

शहद:

शहद सर्दिओं में कफ की समस्या का रामबाण आयुर्वेदिक इलाज है। आयुर्वेद के अनुसार शहद- अदरक को गले की खराश और कफ दूर करने में काफी कारगर माना गया है। अदरक को घिस कर उसमें 2 चम्मच शहद मिला कर दिन में 2-3 बार खाने से सर्दी-जुकाम और कफ की समस्या भी ठीक हो जाती है।

 

गुड़:

गुड़ सर्दिओ में खाना सेहत के लिए फायदेमंद रहता है। अगर आपको ज्यादातर कफ खांसी की समस्या रहती है तो अदरक को भूनकर घिस लें और गुड़ में मिला कर रोजाना लें। इससे सर्दी-खांसी और गले के कफ़ से आपको राहत मिलेगी।

 

नींबू-प्याज का रस:

अगर आपको बलगम की समस्या है तो आप प्याज और नींबू का रस काफी अच्छा कफ का आयुर्वेदिक इलाज है। इसको बनाने के लिए आप प्याज को छीलकर पीस लें और इसमें नींबू का रस मिलाकर इसे एक कटोरी में उबाल लें। अब इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर इसे पीने से आपको कफ से राहत मिलेगी।

 

कालीमिर्च:

काली मिर्च में पाए जाने वाले एंटी बैक्टेरियल गुण के कारण इसमें रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। कालीमिर्च का इस्तेमाल खांसी और कफ की शिकायत होने पर भी किया जाता है। काली मिर्च को पीसकर इसमें 1 चम्मच शहद डालकर इसे थोड़ा सा गर्म कर सुबह शाम खाने से सर्दी-खांसी और गले के कफ़ से आपको राहत मिलती है।

 

हल्दी:

कहा जाता है हल्दी सर्दियों में कफ की समस्‍या का रामबाण इलाज है। इसलिए कफ और खांसी होने पर हल्दी का सेवन करने की सलाह दी जाती है। हल्दी औषधीय गुणों से भरपूर होती है। इसका सेवन करने से खासी-जुकाम में आराम मिलता है। आयुर्वेद के अनुसार कच्ची हल्दी का रस मुंह में डालकर कुछ देर तक रखने से कफ की समस्या में आराम मिलता है। इसके अलावां हल्दी को आप दूध में पकाकर पिने से शरीर की हरारत दूर होती है।

 

नमक के पानी के गरारे

कफ और बलगम होने पर नमक के पानी के गरारे सबसे कारगर सिद्ध हुए है। नमक और गुनगुने पानी से गरारे करने से गले का बलगम साफ होता है और कफ़ भी दूर होता है। अगर आपको कफ की समस्या है तो आपको सुबह-शाम दोनों टाइम पानी में 2 चुटकी नमक डालकर गरारे करने चाहिए। इससे आपको सर्दी-खांसी और गले के कफ़ से आपको राहत मिलेगी।

 

सर्दियों में कफ से बचने के लिए क्या खाये?

  • अपने भोजन में बड़ी इलायची, दालचीनी, तेज पत्ता, अजवायन , जीरा, मेथीदाना, अदरक जैसे मसालों को जरूर शामिल करे।
    सर्दियों में सूखे मेवे खाना बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • नियमित रूप से चिलगोजा, काजू और बादाम का अच्छा सेवन करें।
  • सूखे मेवों से बने लड्डू खाने चाहिए यह इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ शरीर को गर्माहट भी देते हैं।
  • तुलसी के पत्ते, काली मिर्च, दालचीनी, बड़ी इलायची और गुड़ मिलाकर काढ़ा तैयार कर पीएं
  • सर्दियों में घी का सेवन आयुर्वेद के अनुसार बहुत अच्छा माना गया है। घी भारत के प्राचीन सुपरफूड च्यवनप्राश का एक अनिवार्य हिस्सा है।
  • गुड़, पिण्ड खजूर, बादाम, खसखस जैसी गर्म चीजें खाएं। इससे शरीर में गर्मी बनी रहेगी और गले को कफ से राहत मिलेगी।
  • सलाद का सेवन ज्यादा करें खासतौर पर गाजर का जिसमे विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो सर्दियों में कफ की समस्‍या का रामबाण इलाज है।

 

सर्दियों में कफ से बचने के लिए क्या ना खाये? (kaf ki samasya kaise dur kare)

  • रात के समय दूध पीने से कई लोगों को खांसी और कफ की समस्या रहती है। दूध कफ को बढ़ाता लेकिन हल्दी के साथ गर्म कर लेना खांसी और कफ के लिए फायदेमंद है।
  • डेयरी उत्पाद और वसायुक्त चीजों जैसे मक्खन, दही, छाछ आदि से दूरी बनाए रखें। ये खांसी और कफ का कारण बन सकते हैं।
  • इससे बचने के लिए नशे का सेवन जैसे शराब और सिगरेट का कम करें। क्योंकि शरीर की बीमारियों से लड़ने की क्षमता पर इनका प्रतिकूल असर पड़ता है।

 

ये भी पढ़े…
ये हैं सर्दिओं में बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने वाले फ्रूट! ये खाने से कभी नहीं पड़ेंगे बीमार!
तेज दिमाग चाहिए तो अभी से खाना शुरू करें ये 10 चीजें | Top 10 Brain Power Food in hindi
मोटापा दूर करने के उपाय: पतला दिखना है तो ये गंदी आदतें बदल लीजिए!
ये है वजन घटाने वाला फल! साइंस ने भी माना इसे खाने से शरीर बन जाता है फिट | Best Weight loss Fruit in hindi
खाना खाने के बाद ये 7 चीजें बिलकुल ना करे नहीं तो भुगतना पड़ेगा खतरनाक अंजाम! Avoid 7 things after eating food

 

Disclaimer: Our purpose is only to make you aware of the news. Take these only as suggestions and general information. Before following any such treatment/medication/diet, consult a doctor.

Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial