Celebrations in India after Pakistan victory

Celebrations in India after Pakistan victory: भारत में गद्दारो की कोई कमी नहीं है। इसका उदहारण भारत पकिस्तान मैच के बाद पकिस्तान की जीत के बाद देखने को मिला। खबरों के अनुसार भारत-पाकिस्तान क्रिकेट वर्ल्ड कप के मच में पकिस्तान के जीतने के बाद राजधानी दिल्ली सहित देश के कई हिस्सों में जश्न मनाया गया और जमकर आतिशबाजी की गई। इस घटना से आप अंदाजा लगा सकते है कि इनकी सोच कितनी खतरनाक है। ये भले ही रहते और खाते हिन्दुस्तान का है लेकिन इनके दिल में सदा पकिस्तान ही बसता है।

 

पाकिस्तान की जीत के बाद भारत में गद्दारों का जश्न!

खेल में तो हार-जीत का सिलसिला चलता रहता है। लेकिन अपने ही देश की हार पर जश्न मानाने वाले आपने कही नहीं देखे होंगे। भारत में तो सुरु से ही पाकिस्तान परस्त गद्दारों की कोई कमी नहीं है। इसलिए तो पाकिस्तान की जीत का जश्न भारत में मनाया जाता है और अपने देश को निचा दिखाने की कोशिस की जाती है।

T20 World Cup 2021 में पकिस्तान के जीतते ही भारत के गद्दारो ने सारी हद पार करते जश्न मनाकर खूब पटाखे चलाऐ (Celebrations in India after Pakistan victory). भारत की राजधानी दिल्ली में भी भारत की हार और पाकिस्तान की जीत के जश्न में आतिशबाजी की गई। अब बड़ा सवाल ये है की आखिर ये लोग भारत में क्या कर रहे है?

 

भारत में गद्दारों के जश्न पर भड़के वीरेंद्र सहवाग!

पाकिस्तान की जीत का जश्न मना रहे कुछ लोगों की Celebrations in India after Pakistan victory पर भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग भड़क गए। सहवाग ने कहा कि जब भारत में पटाखों पर प्रतिबंध है, तो पाकिस्तान की जीत के बाद ये कहां से आ गए। आपको बता दें की भारत और पकिस्तान के मैच में भारत के ही कुछ लोग हमेशा पाकिस्तान को जिताना चाहते है। क्योकि ऐसे लोग भारत को अपना मानते ही नहीं।

वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया, ‘दिवाली के दौरान पटाखों पर प्रतिबंध है, लेकिन कल भारत के कुछ हिस्सों में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के लिए पटाखे फोड़े गए. अच्छा वे क्रिकेट की जीत का जश्न मना रहे होंगे. तो दीपावली पर पटाखे चलाने पर क्या हर्ज है. पाखंड क्यों, सारा ज्ञान तब ही याद आता है।

वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी ने कहा खुशिया मनाने वाले भारतीय नहीं!

पाकिस्तान की जीत और भारत की हार पर खुशिया मनाने वालो पर Zee News के वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी ने कहा कि “पाकिस्तान की जीत पर भारत में पटाखे जला कर ख़ुशियाँ मनाने वाले ना तो शांतिदूत हैं,ना सच्चे भारतीय हैं। धर्म निरपेक्षता और अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर ये नाटक बंद होना चाहिए। इन्हें घर,रोज़गार,अस्पताल,स्कूल,वैक्सीन भारत के चाहिए और तालियाँ पाकिस्तान के लिए बजाते हैं”।

 

ये भी पढ़ें…
भारत-अमेरिका मिलकर चीन के CPEC को बर्बाद करना चाहते हैं! वैश्विक मंच पर पाकिस्तान का बड़ा आरोप!
जाने कौन सा देश है कोरोना वैक्सीनेशन में No.1 | List of most corona vaccination countries in the world
शाहरूख खान के बेटे को पकड़ने वाले अफसर को मिल रही लगातार धमकी! सालभर में जाएगी नौकरी, जाना होगा जेल!
Jammu Kashmir terrorists encounter: उत्तर प्रदेश के मजदूर की हत्या करने वाले आतंकवादी को सेना ने मार गिराया!
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial